Government is ready to fight against Corona virus released helpline number | कोरोना वायरस से निपटने के लिए सरकार ने कसी कमर, जारी किया हेल्पलाइन नंबर


नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Corona Virus) पर केंद्र सरकार ने बड़ी बैठक की है. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने भी आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं और देश के सभी राज्यों के सीएम को पत्र लिखकर संभावित खतरे से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है. सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. 

चीन से फैले कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार कहीं भी कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती. इसलिए दिल्ली में शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों और एक्सपर्ट्स के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक की. बैठक में कोरोना वायरस के संभावित खतरे से निपटने के लिए तैयारियों का जायजा लिया गया. स्वास्थ्य मंत्रालय पहले ही देशभर के एयरपोर्ट को एडवाइजरी जारी कर चुका है और जो भी चीन से आने वाली फ्लाइट थीं, उनमें सवार सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग पहले से ही की जा रही है.

केंद्र सरकार ने एनसीडीसी का कॉल सेंटर जारी किया है. कॉल सेंटर का नंबर है 011-23978046. इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से भी बात की और चीन से सटी सीमा पर एहतियातन उपाय किए जाने पर भी चर्चा की. स्वास्थ्य मंत्रालय ने विशेषज्ञों की टीमों का गठन किया है. यह टीमें रविवार से अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पर अरुणा वायरस से बचाव के लिए जो इंतजाम किए गए हैं उनका आकलन करेंगे. ये टीम दिल्ली एयरपोर्ट के साथ ही कोलकाता, चेन्नई, मुम्बई, हैदराबाद, बेंगलुरु, कोची एयरपोर्ट पर बचाव इंतजाम को देखेगी.

ये भी देखें-

डॉ हर्षवर्धन ने कहा है कि हर दिन सरकार हालात की समीक्षा कर रही है. अभी तक भारत में कोई भी मामला कोरोना वायरस का कन्फर्म नहीं हुआ है. कुछ लोगों को अलर्ट के तौर पर निगरानी में जरूर रखा गया है लेकिन किसी भी तरह के संभावित हालात से निपटने के लिए हम राज्य सरकारों के साथ तालमेल करके तैयारी कर रहे हैं.

केंद्रीय टीमें एयरपोर्ट के अलावा राज्यों में अलग से जाएंगी और कोरोना वायरस के मरीजों के लिए अलग से इन्तजाम करने में मदद करेंगी. स्वास्थ्य मंत्री ने चीन से आने वाले यात्रियों से भी अपील की है कि यदि उन्हें किसी भी वक्त, किसी तरह इस बीमारी के लक्षण महसूस होते हैं तो तुरंत संबंधित स्वास्थ्य केंद्र में रिपोर्ट करें. 





Source link

Leave a Reply

%d bloggers like this: